बीपी हाई का इलाज योग द्वारा कैसे करें – How to treat bp high by yoga

You are currently viewing बीपी हाई का इलाज योग द्वारा कैसे करें – How to treat bp high by yoga
high blood pressure

बीपी हाई का इलाज अलग-अलग उपचार द्वारा किया जाता है उन्ही में से एक उपचार है योग पढ़ते ब्लड प्रेशर की समस्या को नियमित योग द्वारा नियंत्रण किया जा सकता है हाइपरटेंशन आज के समय में हर दूसरे व्यक्ति को अपना शिकार बनाए हुए हैं जिसके कारण व्यक्ति के मानसिक तनाव की स्थिति बढ़ती चली जाती है और उसका ब्लड प्रेशर पढ़ना शुरू हो जाता है ऐसे में नियमित योग करना बहुत आवश्यक होता है किन-किन योग द्वारा बढ़ते बीपी हाई का इलाज किया जा सकता है और हाई बीपी को कैसे नियंत्रण रखा जा सकता है मानसिक स्थिति को कैसे कम किया जा सकता है अत्यधिक मानसिक तनाव को नियंत्रित किया जा सकता है योग द्वारा संभव है भारत में योग प्राचीन काल से चला रहा है जो आज उसी योग द्वारा हाइपरटेंशन को कैसे नियंत्रण किया जा सकता है विस्तार पूर्वक बताया गया है

अब नही रहेगी हाई ब्लड प्रेशर की कोई परेशानी 

हाई बीपी क्या होता है – what is high bp

शरीर में रक्त की गति अत्यधिक तेज होना बीपी सामान्य से बहुत अधिक बढ़ जाना बीपी हाई की समस्या कहलाता है इसमें सामान्य बीपी 100 से 120 के बीच होना चाहिए यदि किसी व्यक्ति का ब्लड प्रेशर 180 से ऊपर 150 से ऊपर बढ़ता ही चला जा रहा है ऐसी स्थिति में उसे बहुत हानि भी हो सकती है देखा जाता है कई कारणों में पढ़ते परेशानी से व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है आजकल बढ़ते दौर के कारण हमारा दिमाग बहुत सारी टेंशन को झेलता जिसे दिमाग पर अत्यधिक दबाव बनता है उसमें हाइपरटेंशन के कारण शरीर में रक्त संचार बहुत तेज गति से होने लगता है इस स्थिति में हाई बीपी की समस्या उत्पन्न होती है

बीपी हाई होने के कारण – Cause to high BP

  • बीपी हाई होने के कारण अलग अलग हो सकते हैं जिनमें प्रमुख कारण है हाइपरटेंशन इससे आज हर मनुष्य परेशान हैं पढ़ते दौर के कारण  बढ़ती जिम्मेदारियों के कारण  मनुष्य का दिमाग अत्यधिक तनाव झेल रहा होता है जिससे उसे हाइपरटेंशन जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है  इनमें से बीपी हाई होने का यह एक प्रमुख कारण है  बीपी हाई अन्य कई कारणों से भी होता है  जिसमें  शरीर में अत्यधिक भार उत्पन्न हो जाना बढ़ते वजन के कारण बीपी हाई हो ना
  • फास्ट फूड का उपयोग अत्यधिक करना
  •  अत्यधिक तेल का उपयोग
  •  फास्ट फूड का अधिक उपयोग
  •  दिनचर्या का सही ना होना
  •  खून के धक्के जमना
  •  हाइपरटेंशन
  •  रक्तचाप की समस्या
  • नमक का अत्यधिक उपयोग
  • मसालों का अत्यधिक उपयोग
बीपी हाई होने के यह कुछ कारण है जो दर्शाए गए हैं इनमें से अत्यधिक कारणों के कारण ही आज ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ती चली जा रही है यदि सही समय पर इसका उपचार नहीं किया जाए तो इसमें अत्यधिक तनाव के कारण कई बार व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है अतः इसे अनदेखा ना करें और इसकी गंभीरता को समझें

हाई बीपी होने के लक्षण – Symptoms of high bp

यदि नीचे बताए गए लक्षणों में से एक से दो लक्षण आप से मिलते जुलते हैं तो आप एक बार किसी भी डॉक्टर के पास जाकर अपना ब्लड प्रेशर अवश्य चेक करवाएं क्योंकि यदि आप अपना ब्लड प्रेशर को चेक नहीं करवाते हैं तब गलत उपचार के कारण भी आपको हानि पहुंच सकती है ऐसे में पहले ब्लड प्रेशर को चेक कराने के पश्चात ही उपचार कराएं नीचे कुछ हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण बताए गए हैं जिनमें आप अपने लक्षणों को देखकर मिला सकते हैं

  • सिरदर्द बने रहे
  • सांस लेने में तकलीफ हो रही हो
  •  गले में घुटन पैदा हो रही हो
  • चक्कर आ रहे हो
  •  जी मिचला रहा हो
  • उल्टी आ रही हो
  •  लाल धब्बे दिखाई दे रहे हो
  •  अचानक हाथों पैरों पर सूजन बढ़ जाए
  •  दिल घबराने लगे
यह सभी 12 हाई ब्लड प्रेशर को दर्शाते हैं यदि आपको इनमें से कोई समस्या दिखाई दे तब आप तुरंत ही अपना चेक करवाएं और यदि आपका ब्लड प्रेशर 120 से ऊपर आता हो तब आप तुरंत ही कोई उपचार ले जिससे आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है प्रतिदिन योग करना शुरू करें ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करने के लिए योगासन बताए गए हैं आप अपने घर पर कर सकते हैं

योग द्वारा हाई ब्लड प्रेशर को कैसे नियंत्रण करें – Control high blood pressure with yoga

योगा द्वारा हाई ब्लड प्रेशर को बहुत आसानी से नियंत्रण किया जा सकता है यह प्रक्रिया आपको प्रतिदिन सूर्योदय से पहले और सूर्य अस्त के साथ करनी होती है यह योग प्रक्रिया आपके हाई बीपी की समस्या को नियंत्रण में रखती हैं कुछ लोग आ गए हैं जिससे आपका हाई बीपी नियंत्रण किया जा सकता है

बाधा कोणासन  – Bound Angle Pose

बीपी हाई

बाधा कोणासन खून के बहाव को नियंत्रण करता है इसे सही तरीके से बहाने में मदद करता है दिल के कामकाज के तरीके को सही करता है इसमें सुधार उत्पन्न करता है ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करता है यह है हमारे घुटनों कमर अंदरूनी जांघों मसल को स्ट्रेच करता

  • अपनी पीठ को सीधा करते हुए बैठ जाएं इसमें पैर आपके सीधी तरफ सामने की ओर फैले हुए हैं
  • अब आप अपने घुटनों को मोड़ए और अपने पैरों के तलवों को आपस में मिलाएं इन्हें जितना हो सकता हो अपनी नाभि के निचले हिस्से की तरफ खींच ले
  • अब अपने घुटनों को जितना हो सके जमीन की तरफ नीचे ले जाएं
  • अब इस मुद्रा में अपनी सास को तेजी से खींचे और 5:00 से 10 सेकंड के लिए सांसो को रोके और छोड़े

अधोमुख श्वानासन (Downward-Facing Dog pose)

High blood pressure
high blood pressure

अधोमुख स्वासन आसन यह आपके हाथों जांघों तथा पिंडलियों में हैमस्ट्रिंग पैरों को स्ट्रेच कर आपकी बाहों और पैरों को बहुत मजबूत बनाता है यह रक्त के बहाव को भी सही करता है

इस आसन की प्रक्रिया में आपको अपने हाथों को फर्श पर फैला देना है और घुटनों को मोड़कर फर्श पर बैठ जाना है आपके घुटने आपके दोनों कुल्हो के नीचे और हाथ कंधों के नीचे हो अब आप अपनी उंगलियों को फैलाएं इसके पश्चात आपके शरीर का वजन समान रूप से उंगलियों के ऊपर तथा आपकी पूरी हथेली पर होना चाहिए आप अपने दोनों पैरों को सीधा होने तक अपने घुटनों के बल द्वारा खुद को उठाएं अगर आप कल सके तो अपनी हथेलियों को उंगलियों को हर्ष के ऊपर सपाट रखते हुए अपनी एड़ी को धीरे धीरे फर्श की तरफ ले जाएं

इसके बाद अपने दोनों पैरों को कुल्लू की दूरी के बराबर फैला लें और अपने सिर को अपनी अपनी बाहों के बीच रखें इस अवस्था में आने के बाद आपका शरीर अंग्रेजी का उल्टा वी आकार का बन जाएगा जिसमें आपके मुड़े हुए खुले किसी पहाड़ की चोटी की तरह ऊपर की ओर होंगे तथा आपके हाथ और पैर दोनों तरफ फैले हुए होंगे इसी अवस्था में 5 से 10 सेकंड के लिए अपनी श्वास को रोके और छोड़ें यह आपकी हाइपरटेंशन जैसी समस्या को नियंत्रण करने में लाभकारी आसन है

हाई ब्लड प्रेशर के लिए मेडिटेशन – Meditation for high blood pressure

सुबह-सुबह ध्यान लगाना भी बीपी हाई की समस्या को नियंत्रण करता है इससे आपके मस्तिष्क में चल रहे अनेकों प्रकार के अलग-अलग विचार जो आपके मस्तिष्क को शांत करता है ध्यान लगाने से रक्तचाप की स्थिति सुधरती है हाइपरटेंशन की समस्या कम होती है और हाई बीपी नियंत्रण होता है सुबह-सुबह सूर्योदय से पहले आपको 30 मिनट के लिए अपने मन की स्थिति को सुधारने में मेडिटेशन बहुत लाभकारी होता है 30 मिनट तक आंख बंद कर कर आप ध्यान करें जिससे आपका दिमाग शांत होगा और ब्लड प्रेशर जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलेगा

Health Banay

On HealthBanay, you get information related to health Ayurvedic Remedies Home Remedies Homeopathy Treatment

Leave a Reply