Shoulder pain causes and 10 treatment – कंधे में दर्द के कारण और उपचार ?

You are currently viewing Shoulder pain causes and 10 treatment – कंधे में  दर्द के कारण और उपचार ?

कंधे में दर्द (shoulder pain) के कई कारण हो सकते हें कभी लगातार एक करवट सोने से तो कभी लगातार काम करते रहने से अत्यधिक कंधों में दर्द (shoulder pain) उत्पन्न हो सकता है कंधे में दर्द का कोई एक कारण नहीं होता है यह कई भिन्न-भिन्न प्रकार के कारणों से हो सकता है जिसमें कंधे की मांसपेशियों में तनाव आना कंधे में चोट लग जाना या ज्यादा कारणों में सर्वाइकल के कारण भी कंधे में दर्द उत्पन्न होता है सिर पर अत्यधिक भार रखना  या सिर पर अत्यधिक वजन रखने के कारण भी कंधों में दर्द उत्पन्न हो जाता है लंबे समय तक हाथों को ना हिलाना एक ही अवस्था में रखने के कारण भी कंधे में दर्द हो जाता है हमारे कंधे में तीन प्रकार की हड्डियां पाई जाती हैं

Table of Contents

कंधों में दर्द के कुछ सामान्य कारण –  shoulder pain reasons

  • गठिया बाद के कारण
  • जमे हुए कंधे
  • मांसपेशियों में तनाव
  • रोटेटर कफ की चोट
  • सर्वाइकल
  • कंधे में चोट लगने के कारण
  • खिंचाव के कारण
  • लगातार एक तरफ सोते रहने के कारण
  • सूजन के कारण
  • कंधे का खिसकना
  • आमवात
  • बहु काया फ्रोजन शोल्डर
  • लंबे समय तक गर्दन को एक ही अवस्था में बनाए रखने के कारण

Heart blockage को कैसे दूर करें?

गठिया बाद के कारण कंधों में दर्द का उपचार -Treatment of pain in the shoulders due to post-arthritis

गठिया बाद के कारण कंधों में दर्द (shoulder pain) का उपचार गठिया बाद के कारण कंधे में दर्द के कुछ घरेलू उपचार जिनसे कंधे की मांसपेशियों के तनाव को दूर किया जा सकता है जिनमें नारियल जैतून तेल या सरसों के तेल को एक जगह मिलाकर इसकी हल्की हल्की मालिश कंधे की मांसपेशियों के तनाव को कम कर देती है यदि कंधे में चोट लगने के कारण दर्द उत्पन्न हो रहा है तो इसकी गर्म पानी के द्वारा सिकाई करें जिससे मांसपेशियों में उत्पन्न तनाव कम होता है प्रतिदिन कंधे को दो से तीन बार आगे की तरफ और दो से तीन बार पीछे की तरफ हाथ घुमाए इससे जमी हुई मांसपेशियां दोबारा से काम करने लगती हैं

जोड़ो के दर्द का आयुर्वदिक उपचार

जाम हुए कंधे के उपचार – jammed shoulder Pin treatment

गलत गतिविधियों के कारण कई परिस्थितियों में कंधा जाम हो जाता है (causes of shoulder pain) जिसके कारण हाथ घुमाने में कंधे में दर्द (shoulder pain) होता है और करवट बदलते हुए उठते बैठते भी कंधे में बहुत ज्यादा दर्द होता है हमारी गलत गतिविधियों के कारण ही कंधे की हड्डियों को आपस में जकड़े रहने वाली मांसपेशियां कुछ दूरी बना देती हैं जिसके कारण हमारा कंधा जाम हो जाता है इसे ठीक करने के लिए
 नियमित रूप से कंधे की सिकाई करनी चाहिए और प्रतिदिन सुबह-शाम हाथ को तीन से चार बार आगे की तरफ और तीन से चार बार पीछे की तरफ हल्का घुमाना चाहिए शोल्डर को दो से तीन बार आगे की तरफ और दो से तीन बार पीछे की तरफ घूमआना चाहिए जिससे हड्डी के बीच में आया हुआ गैप दोबारा से भरने लगता है इसके लिए कुछ दर्द निवारक आयुर्वेदिक औषधियां भी दी जाती हैं

मांसपेशियों में तनाव के कारण कंधे में दर्द – Shoulder pain due to muscle tension

कई बार कंधे में खिंचाव के कारण मांसपेशियों में सूजन उत्पन्न हो जाती है जिसके कारण कंधे में दर्द (shoulder pain) होने लगता है यह एक सामान्य कारण है और  बहुत ही जल्दी ठीक किया जा सकता है मांसपेशियों में तनाव के कारण होने वाले कंधे में दर्द को कुछ घरेलू उपचारों द्वारा ही ठीक किया जा सकता है कंधे में उत्पन्न दर्द से निजात पाने के लिए कभी भी कंधे को हिलाना नहीं चाहिए इससे सूजन अत्यधिक वढ़ जाती है और कैंसर होने का भी खतरा उत्पन्न हो जाता है
 मांसपेशियों में खिंचाव के कारण कंधे में हो रहे दर्द को ठीक करने के लिए आप कंधे की सिकाई बर्फ के द्वारा करने से कंधे के दर्द को बहुत लाभ होता है इन उपचार के साथ साथ आपको अपने कंधे को कुछ दिन के लिए आराम भी देना होगा जिससे मांसपेशियों में उत्पन्न हुए सूजन जल्द से जल्द ठीक हो सके

सर्वाइकल के कारण कंधों में दर्द – Shoulder pain due to cervical

 यदि अचानक आप के दाहिने हाथ के कंधे में दर्द उत्पन्न हो जाता है और सीधे लौटने पर वह दर्द कम हो जाता है तो ऐसे में हो सकता है कि आपको सर्वाइकल पेन हो रहा हो कई बार लगातार कंप्यूटर और मोबाइल स्क्रीन पर काम करते समय गर्दन को लंबे समय तक सीधा रखने के कारण उत्पन्न हो जाता है जिसके कारण हमें दर्द होने लगता है और कुछ  समय  के लिए ठीक हो जाता है फिर से दर्द होने लगता है (cause of shoulder pain) ऐसे में क्या करना चाहिए घरेलू उपचार से बहुत जल्द ही ठीक किया जा सकता है
shoulder pain
 आप मेडिकल पर जाकर एक गर्म पट्टी लेकर आएंगे दर्द निवारक स्प्रे साथ में लेकर आएंगे रात को सोते समय गर्दन के पीछे हिस्से पर स्प्रे कर  उसके ऊपर से गर्म पट्टी बांध देंगे सुबह उठते ही पट्टी खोल कर गर्दन की एक्सरसाइज करेंगे फिर स्प्रे करने के बाद पट्टी दोबारा से बांध देंगे दो से 3 दिन यह प्रक्रिया करने के बाद आपके कंधे और गर्दन का दर्द दोनों ही चले जाएंगे

बाएं कंधे का दर्द – left shoulder pain

यदि आपके वाए कंधे में दर्द हो रहा है तो यह एक सर्वाइकल का भी कारण हो सकता है या सामान्य दर्द भी हो सकता है यह आप पर निर्भर है कि यह किस प्रकार का दर्द है यदि दर्द अचानक उत्पन्न हुआ है जिसमें लंबे समय के टीवी या मोबाइल स्क्रीन के सामने गर्दन को सीधा रखने के कारण या सोते समय एक ही तरफ को सोते रहने के कारण दर्द हुआ है इन दोनों ही दर्द को आयुर्वेदिक औषधियों द्वारा ठीक किया जा सकता है अधिक जानकारी के लिए आप अपने किसी भी नजदीकी आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें

अस्पष्टीकृत कंधे का दर्द  – unexplained shoulder pain

 जब यह पता लगाना मुश्किल हो जाएगी कंधे में दर्द किन कारणों के स्वरूप हो रहा है या कंधे का दर्द होने के क्या कारण है तब क्या करना चाहिए
 सामान्यतः कंधे में दर्द होने के कई कारण हो सकते हैं परंतु जब यह स्पष्ट ना करा जा सके कि कंधे में दर्द होने का कारण क्या है (unexplained shoulder pain)
तब यह एक बात रोग हो सकता है ऐसे में आयुर्वेदिक औषधि में वात रोग निवारक बहुत दवाइयां हैं जिनके उपयोग से कंधे के दर्द को दूर किया जा सकता है इसमें आप कच्चे लहसुन को चबा चबा कर खाएं और इसके साथ वात रोग निवारक  चूर्ण का भी उपयोग करें यदि उपयोग करने से आप के दर्द में आराम मिलता है तो आप हमसे संपर्क कर सकते हैं हम आपको कुछ आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में अत्यधिक जानकारी देंगे जोकि आयुर्वेदिक डॉक्टर द्वारा बताई जाए

रात में सोते समय कंधे में दर्द – shoulder pain at night

रात को सोते समय अचानक कंधे में दर्द उत्पन्न हो जाना यह लगातार एक तरफ को ही सोते रहने के कारण हो सकता है जिसमें जिस तरफ दर्द है उसके दूसरी तरफ सोए जिससे कंधे दर्द को आराम मिलेगा और हल्के गर्म पानी को कंधे पर डालें दो से तीन बार यह करने से कंधे का दर्द ठीक हो जाएगा

आमवात (Rheumatism):-

शरीर रोगों की जनता तय होती है हमारी पाचन क्रिया यदि हमारी पाचन क्रिया ही सही नहीं होगी तो हमारे शरीर में विषैले पदार्थों का जमना शुरू हो जाता है जिसे अमा का जमना कहते हैं कंधे मैं अमा जमने से कंधे का दर्द होना शुरू हो जाता है इसे आमबात भी कहा जाता है

पेट के अल्सर को घरेलू उपचारों से करे ख़त्म

बहु काया-फ्रोजन शोल्डर (Multi body frozen shoulder):-

कंधे के जोड़ों में असंतुलन वात के कारण कंधे को हिलाने में दर्द उत्पन्न होता है (shoulder pain) मांसपेशियों में क्षति पहुंचती है यह रोग वात रोग कहलाता है

कंधे में उत्पन्न दर्द के निवारण के लिए आयुर्वेदिक उपचार – Shoulder pain Ayurvedic treatment

कंधे में दर्द होने के कई कारण हो सकते हैं यह एक सामान्य कारण भी हो सकता है कंधे में दर्द किसी क्षति के कारण भी हो सकता है या कंधे की हड्डी खिसकने के कारण भी हो सकता है कंधे में दर्द आराम के लिए आयुर्वेद में रसोनम ,अदरक, हरिद्रा, अश्वगंधा, वाला, दशमूल ,तथा योगीराज गूगल, का उपयोग लाभकारी बताया गया है आयुर्वेद में कंधे के दर्द के लिए स्वेदन, नाचशिकार इसका लेप करना बहुत लाभकारी होता है

कंधे के दर्द के लिए सामान्य व्यायाम – Common exercises for shoulder pain

कंधे में दर्द होना या जलन होना कोई भी असामान्य बात नहीं है यह लगभग 18 से 26% नौजवानों को प्रभावित करता है तथा तनाव को दूर करता है कंधे में मांसपेशियों को फ्लेक्स करने का एकमात्र उपाय बयान है हम आज आपको बता रहे हैं तीन सामान्य कंधे के बयान जोकि आपके कंधे के दर्द को राहत देने के लिए बहुत लाभकारी हैं इसमें सामान्य था 15 से 20 मिनट का समय उपयोग किया जाता है और यह सबसे आसान और सुविधाजनक बात यह है कि इन्हें दिन में किसी भी समय किया जा सकता है और इसे के उपयोग से आपको कंधे के दर्द में तुरंत ही आराम दिखाई देगा

ल्यूकोरिया के लक्षण कारण और घरेलू उपचार 

1 शोल्डर रोल (Shoulder Roll)

इसे करने के लिए आप जमीन पर सीधे खड़े हो जाएं तब अपने पैरों को एक दूसरे से कुछ दूरी पर बनाए रखें अपने दोनों हाथों को अपने कंधों तक ले जाएं और इन्हें कंधे पर रख दें

ध्यान रखें आपकी पीठ सीधी हो और दोनों हाथों में हुए हैं

एक समान गति में सांस लेते हुए इस व्यायाम को करें दोनों हाथों को एक साथ 15 से 20 बार घूम आए

2 नैक रिलीज (Neck Release)

sholder pain

सीधी और आराम से जमीन पर खड़े हो जाएं

अपने सिर को थोड़ा नीचे की ओर झुकाए और अपनी ठृढी को अपनी छाती की तरफ ले जाएं आपको अपनी गर्दन के पिछले हिस्से में खिंचाव महसूस होगा

इस अवस्था में 5 से 10 sec तक रहे फिर अपनी गर्दन को उसके विपरीत बाएं कंधे की ओर ले जाएं अब आपको दाहिनी ओर खिंचाव महसूस होगा इस अवस्था में 5 सेकंड के लिए रुके

CRP test in hindi – सीआरपी टेस्ट क्या और क्यों होता है?

आयुर्वेदिक उपचार क्या है – what is ayurvedic treatment

आयुर्वेदिक उपचार है जिसके कारण किसी भी पुराने से पुराने रोग का उपचार किया जा सकता है और उसे ठीक किया जा सकता है सालों से चली आ रही आयुर्वेदिक पद्धति सबसे अलग सबसे पुरानी उपचार पद्धति है इसमें रोगी को उसकी नाड़ी देखकर उपचार किया जाता है वर्षों से चली आ रही आयुर्वेदिक पद्धति सबसे पुरानी उपचार पद्धति है आयुर्वेद बड़े से बड़े रोग को जड़ से खत्म करने की क्षमता रखता है आज के समय में आयुर्वेद की बढ़ती मांग रोगियों को रोग मुक्त करा रही है

Health Banay

On HealthBanay, you get information related to health Ayurvedic Remedies Home Remedies Homeopathy Treatment

Leave a Reply